प्राणों से प्रिय गणतंत्र – Poem on Indian Republic Day, in Hindi by Mithilesh.

जय गण, जय जन लें हम यह प्रण भारत के भाग्य बनें करें शुद्ध तंत्र का मन   हासिल विश्वास करें दुःख सुख अहसास करें हो सपना हिन्द का सच दुश्मन का नाश करें   पर ध्यान रहे इतना कर्त्तव्य Read more ›

Categories

दरियां बिछाने वाले हमारे बच्चा भाई – व्यंग्य लेख, Satire on Political Workers, Bachcha Bhai!

बच्चा भाई! एक राजनीतिक पार्टी के बहुत पुराने सक्रीय कार्यकर्त्ता रहे हैं. उस पार्टी के एक नेता के पीछे-पीछे घूमना हो, या उसकी सभा की व्यवस्था करना हो अथवा उस सभा में कुर्सियां, दरियां लगाने का काम हो, बच्चा भाई Read more ›

Categories

सभ्यता का ज्ञान – Human Civilization, Poem in Hindi.

कुत्ते लड़ रहे थे रात को शहर के कुत्ते दूर से दौड़ कर आये वे गलियों के कुत्ते और हो गए गुत्थमगुत्था गुट बनाकर कुछ दुबले थे कुछ मोटे कुछ वरिष्ठ थे तो कुछ छोटे कुछ भौंक कर कुछ मिमियाकर Read more ›

Categories

Bobby Jindal statement that He is American only, not Indian American, Reaction on this.

बॉबी जिंदल (अमेरिकी राजनीतिज्ञ), कहते हैं कि वह सिर्फ अमेरिकी हैं, ‘भारतीय-अमेरिकी’ नहीं?… और उनके माता-पिता 40 साल पहले अमेरिका में अमेरिकी बनने गए थे! … आप सभी क्या कहते हो मित्रों!! Bobby Jindal statement that He is American only, Read more ›

Categories

आवाजों के घेरे – कवि दुष्यंत कुमार ‘Aawajon ke ghere, Poetry by Dushyant kumar!’

दुष्यंत कुमार अपने आप में एक पहचान हैं. उनकी कविताएं, उनके जीवन की परतों की तरह लगती हैं, जो समय के साथ एक-एक करके उतरती जाती हैं. व्यवस्था के खिलाफ बात कहने की पराकाष्ठा का नाम हैं दुष्यंत कुमार. अपने Read more ›

Categories

दिल्ली की भावी मुख्यमंत्री ‘किरण बेदी’ – Delhi’s future chief minister Kiran Bedi.

किरण बेदी किसी परिचय की मोहताज नहीं हैं. वर्तमान समय में यदि युवकों/ युवतियों से उनके आदर्श व्यक्तित्वों की सूची बनाने को कहा जाय, तो उनमें से अधिकांश की सूची में किरण बेदी का नाम टॉप-१० में जरूर होगा. बचपन Read more ›

Categories

घास की रोटी – Ghas ki Roti, Short Story by Mithilesh ‘Anbhigya’!

राजस्थान के एक विद्यालय में कार्यक्रम चल रहा था. कवि, नेता, वक्ता अपनी प्रस्तुति देकर श्रोताओं को भाव-विभोर कर रहे थे. वाह-वाह, तालियों से प्रस्तोताओं का उत्साह आसमान छू रहा था. स्टेज पर मंत्री, नामी लेखक, विद्वानों के साथ हमारे Read more ›

Indian Women and Children, Working issues!

पारिवारिक मूल्यों पर विचार करने की कड़ी में जो सर्वाधिक चिंतनीय विषय नजर आता है, वह है बच्चों का लालन-पालन से सम्बंधित विषय. एक अध्ययन के अनुसार, 60 मिलियन डॉलर के भारतीय आईटी उद्योग में एंट्री लेने वाला, हर दूसरा Read more ›

Sequence of Human Character, United Family Discussion!

क्या समाज व्यक्ति को बना सकता है? या व्यक्ति ही समाज का निर्माण करते हैं? सही क्रम क्या यह है: व्यक्ति > परिवार > गाँव/ मोहल्ला > समाज > राष्ट्र !! उपरोक्त क्रम में व्यक्ति के सबसे करीब ‘परिवार’ है. Read more ›

United or Joint Family, Name Convention, Joint Family Discussion!

मन में यूं ही विचार आया कि ‘संयुक्त राज्य अमेरिका’ (United States of America) को यदि हम ‘जोड़ राज्य अमेरिका‘ (Joint States of America) कहें तो अभिप्राय क्या बनेगा? ठीक इसी प्रकार ‘संयुक्त परिवार’ (United Family) को हम ‘जोड़-परिवार’ (Joint Read more ›

Importance for Experienced Elder in Family, Joint Family Discussion!

देश के जो योग्य और अनुभवी लोग हैं, उनको देखने पर आप पाएंगे कि उन सभी की उम्र 60 से अधिक ही है. नौकरशाह, नेता, तमाम आयोगों के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, प्रतिनिधिमंडल. सिर्फ नाच-गाना (फिल्म इत्यादि…) और खेलकूद में युवा सक्रीय Read more ›

Economic Mismanagement for an Individual in India, Joint Family Discussion!

आज के युवाओं में एक सबसे बड़ी समस्या दृष्टिगत होती है और वह है ‘आर्थिक – कुप्रबंधन’ की. जी हाँ! कोई युवक कमाए, न कमाए, 4 अंकों में उसकी सेलरी या आय हो या 5 अंकों में अथवा 6 अंकों Read more ›

Family and their good products, Joint Family Discussion!

पारिवारिक मूल्यों पर विचार करते हुए यह बात ध्यान आती है कि किसी एक लड़के को उसके माँ-बाप और कई बार उसके भाई मेहनत-मजदूरी करके, मिलकर पढ़ाते हैं, उच्च शिक्षा दिलाकर उसे सरकारी या बढ़िया प्राइवेट जॉब दिलाते हैं. कई Read more ›

संयुक्त परिवार – United Family Concepts and Discussion

भारतीय दर्शन के परिप्रेक्ष्य में समस्त समस्याओं का सामने आना ‘संयुक्त परिवार’ नामक संस्था का असफल होना प्रतीत होता है… और समस्याओं का समाधान भी निश्चित रूप से इसकी सफलता ही है. (…शेष आगे!)     Buy Family Gift United Read more ›

क्रोध, प्रेम, घृणा, दया, मानवता की मिसाल है मेट्रो … !! Poem on Delhi Metro in Hindi

बैठ गया ब्लू लाइन मेट्रो पर सुबह-सुबह जाना था आगे पहुंचे स्टेशन पर भागे-भागे लम्बी लाइन लगी थी सबको ही जल्दी थी टोकन के लिए आगे खिसके लाइन में खड़े लोग भड़के मजबूरी में दस मिनट लगाया फिर चेकिंग के Read more ›

Categories

‘न्यू ईयर’ का ‘रतजगा’ – Happy New Year 2015 Poem in Hindi

सुबह-सुबह जब आज जगा था सर्दी से सूरज भी डरा था कल की रात न सोये हम सब ‘न्यू ईयर’ का रतजगा था   ठंडी में खूब शोर मचाकर बेसुरा गाना गा गाकर ‘बीजी’ थे सब फोन में ऐसे जैसे Read more ›

Categories

अटल बिहारी बाजपेयी के जन्मदिवस पर – Poem on Atal Bihari Bajpayee by Mithilesh

हे युगपुरुष! तुमको नमन सींचा है तुमने नव चमन दिया तंत्र सच में लोक को जन जन के तुम आलोक हो   सद्भावना के कर्म फल अनेकता में भी सफल समरसता के प्रयत्न हो तुम सच में ‘भारत रत्न‘ हो Read more ›

Categories

स्कूल जाते एक बच्चे की भावना – Poem on child feeling at Terrorism

ना डरें हैं, ना डरेंगे तुम जो भी कर लो आतंक से लड़ते रहेंगे बंदूकें अपनी पूरी भर लो   ना समझो हमको छोटी जान वतन हमारा हिन्दुस्तान नामो निशां मिटायेंगे होने दो हमको तुम जवान -मिथिलेश कुमार सिंह, उत्तम Read more ›

Categories

Type in Hindi Unicode – हिंदी टाइप टूल

नोट – (यहां आप अंग्रेजी (रोमन हिंदी) में टाइप कर सकते हैं। जैसे- आपके द्वारा meri(space) rai(space) hai(space) टाइप करते ही ये वाक्य – ‘मेरी राय है’  में बदल जाएगा।)     Type in hindi unicode, hindi type tool Convert Read more ›

Categories

बच्चा भाई के ‘मन की बात’ – Man ki baat – Bachcha Bhai!

आज बच्चा भाई बड़े नाराज दिख रहे थे. नाराजगी में उनका चेहरा और भी बिचारा बन जाता है. मैंने सोचा कि उनकी बगल से नजर बचाकर निकल जाऊं, पर आज तक कभी बचा जो आज बच जाऊंगा. उनके घर के Read more ›

Categories

मन को अपने क्या समझाऊँ – Poem on Humanity

वह कुछ कहता, उससे पहले चिल्ला उठी मेरी ईमानदारी सही खुद को, गलत उसे बताऊँ   वह कुछ मांगता, उससे पहले खुसर-फुसर करने लगी सच्चाई झूठ सब कहते, मैं क्यों शरमाऊँ   जुल्म हो जाय, उससे पहले सिकुड़ गयी मेरी Read more ›

Categories

गूगल एडसेंस का सपोर्ट हिंदी वेबसाइट/ ब्लॉग के लिए शुरू – Google Adsense in Hindi

एक लम्बे इन्तेजार के बाद गूगल ने अपनी लोकप्रिय सेवा ‘एडसेंस’ को हिंदी वेबसाइट और ब्लॉग के लिए भी शुरू कर दिया है. 2008 में अचानक गूगल ने हिंदी एडसेंस की सेवाएं स्थगित कर दी थीं. इसके पीछे कोई ठोस Read more ›

Categories

राष्ट्र-किंकर – Rashtra Kinkar

राष्ट्रभक्ति ले कर चला, किंकर का अभियान कार्य हो रहा अनवरत, रखा सभी का मान रखा सभी का मान, साधना कर दिखलाया ग्यारह सालों से, संस्कृति-अलख जगाया हम नन्हें-मुन्नों को, मिलती रहे यूं शक्ति भाषा-जाति विभेद भुला, हम करें राष्ट्रभक्ति. Read more ›

Categories

इंटरनेट, सोशल मीडिया पर सुरक्षा – Important security tips on Social Media, Internet

इंटरनेट से सम्बंधित यहाँ कुछ सामान्य टिप्स हम लिख रहे हैं. बाकि धीरे-धीरे इनकी संख्या निश्चित ही बढ़ेगी सोशल नेटवर्किंग साइट्स के लिए अलग पासवर्ड रखें, न कि वही पासवर्ड जो आप अपने मेल या दुसरे महत्वपूर्ण अकाउंट में यूज Read more ›

Categories

गूगल सर्च, जीमेल एवं गूगल कैलेण्डर :: कुछ अन्य फीचर्स – Google Search, Gmail and Google Calenders!

गूगल सर्च: दुनिया का सबसे बड़ा सर्च इंजिन. इसकी महत्ता का अंदाजा आप इस बात से ही लगा लीजिये कि गूगल भगवान, गूगल देवता इत्यादि उपनाम सब इसी गूगल-सर्च के ही हैं. यदि इंटरनेट आज सूचनाओं का इतना बड़ा श्रोत Read more ›

Categories